PMRY क्या है ?

भारत सरकार एवं राज्य सरकारों की संयुक्त परियोजना के अंतर्गत PMRY जो की एक विशिष्ट उद्देश्य इकाई (Special Purpose Entity) है, की स्थापना की गयी है | इस विशिष्ट उद्देश्य इकाई की स्थापना भारतीय ग्रामीण एवं असूचित नागरिकों को नागरिक सुविधाओं का केन्द्रीकृत सहकारी ढांचे के माध्यम से अधिकृत केन्द्रों के द्वारा सुनियोजित, व्यावहारिक एवं संवहनीय विधि से प्रदाय किये जाने के लिए की गयी है |

PMRY उद्देश्य ?

PMRY केन्द्रों को सार्वभौमिक एवं व्यापक सुचना प्रोद्योगिकी समर्थित नागरिक सेवाओं के तंत्र बिंदु के रूप में विकसित करना जहाँ से आम रहवासियों को शासकीय विभागों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों, बैंकों, बीमा कम्पनियों, वित्तीय संस्थानों, एवं अन्य सुवधाओं / सेवाओं के साथ जोड़ कर देश की ग्रामीण सामाजिक – आर्थिक प्रगति को प्राप्त किया जा सकें |्य है |

PMRY का लक्ष्य ?

PMRY केंद्र भारत सरकार की “डिजिटल इंडिया” परियोजना के आधार स्तम्भ है | यह केंद्र ग्रामीण एवं सुचना विहीन नागरिकों को विभिन्न शासकीय एवं अन्य सेवाओं का सुचना प्रोद्योगिकी एवं डिजिटल इंडिया के प्लेटफार्म के माध्यम से प्रदाय किया जाना सुनिश्चित करते है | ये केंद्र आधारभूत जन-ऊपयोगिक योजनाओं, सामाजिक समृद्धि योजनाओं, स्वास्थ्य सेवाओं, वित्तीय सेवाओं, शैक्षणिक सेवाओं, कृषि संबंधी सेवाओं, के अलावा अन्य B2C सेवाओं को देश के ग्रामीण एवं दूरस्थ इलाकों में प्रदाय किये जाने के लिए अधिगामित किये गए है | यह एक अखिल भारतीय विविध क्षेत्रीय, भोगोलिक, बहु भाषीय, सभ्यताओं को ध्यान में रख कर बनाया गया परितंत्र है जिससे शासन द्वारा सामाजिक, वित्तीय एवं डिजिटल सम्मिलित समाज के निर्माण के जनादेश को पाया जा सकें |ो |

PMRY के दो शब्द ?

“ मेहनत आपकी सहयोग हमारा ”

हमारे प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्र मोदी जी ने जो सपना देखा है बेरोजगारी खत्म करने और और गाँव वालों को गाँव में ही सभी सुविधाएँ उपलब्ध कराने का तो क्यों न इस सपने को साकार करने में आप और हम उनकी मदद करें | भारत को बेरोजगारी की बेड़ियों से मुक्त करने में तो आज ही अपने गाँव वालों को गाँव में ही सभी सुविधायें देने का प्रण करते हुए जुड़िये PMRY से |